शनि के महाराज आग्रह पर देवराज द्वारा बुलाई का memenuhi MoM

विगत कुछ वर्षों से अपने भक्तों की संख्या में आई अचानक वृद्धि से शनि देव महाराज काफी चिंतित थे. भक्त इतना तिल के तेल उड़ेलते हैं एक ही दिन की पुरा सप्ताह उसकी सफाई में लग जाता हैं

.

शनि महाराज की परम भक्तिन

शनि महाराज ने देवराज इन्द्र से गुहार लगाई . बोले “हे स्वर्ग राज, आजकल जितने हैं वार उसमे सबसे व्यस्त मेरा ही कार्यकर्म हैं. आप कृपा कर करवाइये beban-sharing, बाकी के दिवस देवता बहुत आराम में हैं. इन्द्र के देव तथास्तु कहने पर भी नहीं माने शनि देव. कहा एक antar memo kantor निकाल सातों देवों की बुलाइये pertemuan. देवराज ने हामी भर दी, बोले- आप सातों दिवस देव मीटिंग कीजिये MoM (मिनट्स ऑफ़ मीटिंग) मुझे मेल कर दीजियेगा. सर्वसम्मति से निर्णय लीजियेगा, मेरे ऊपर मत ठेलिएगा keputusan. मेल में FYIP तथा secepatnya का प्रयोग है वर्जित.

आनन -फानन में मीटिंग बुलाई गयी. नीचे प्रस्तुत हैं उसी मीटिंग के कुछ अंश ..

निर्धारित समय पर शनि देव ही नहीं पहुँच पाए (के सब कामों में देर करने की आदत अनुसार) पिताः सूर्य भगवन कुढ़ के बैठे रहे. एक देव का दुसरे देव के लिए कहे शुद्ध-वचन यहाँ लिखना अनुचित होगा

चन्द्र (सोमवार के देव). Senin Blues के कारण से मुझे कौन पूजेगा, पृथ्वी लोक पर सब दुसते हैं क्योँ, इतनी शीघ्र आ गया सोमवार ..

मंगल देव. भ्राता गण, नॉन-वेज नहीं खा पाने के कारण लोग मुझे भी नापसंद करते हैं ..

बुद्ध देव: हमसे किसी ने पुछा ही नहीं. यो कहिये हमें कोई पुछता ही नही ..

शुक्र (असुर के गुरु): यही परिस्थिति तो अपनी भी हैं, हाँ का कुछ निठ्ठले हो -हल्ला करते हैं akhir pekan ..

वृहस्पति (देवो के गुरु): आपने जो संतोषी माँ का आँचल पकड़ लिया हैं. वैसे शनि महाराज, अपनी असुविधा कहिए

शनि महराज:. हे देव गण! मेरी दुविधा समझिए. नित नए भक्त फफूँदी की तरह उत्तपन हो हैं रहे. अब तो अति हो गयी हैं

सुर्य भगवन:. आपको तो प्रसन्न होना चाहिए, पुत्र

शनि महराज:. ये भक्त तो तभी तृप्ति पाते हैं, जब तक उनके निकट कैमरा भटकता हैं. Selfie अब तो भी करने लगे हैं पुजा का. दो मास पूर्व एक बालिका का CCTV कैमरा का प्रसारण होने के बाद इनकी भक्ति अंध हो गयी हैं. कैमरा, लाइट्स, साउंड ऑन ..

(मीटिंग हैं जारी, नतीजा पाठको को सूचित किया जायेगा अगर संपादको की टेढी -दृष्टि बनी रहे तो)

Sangkalan Artikel ini tidak diedit atau ditulis dengan berpura-pura Berita tim editorial untuk publikasi sebagai artikel biasa. Ini adalah user-generated content, dan dapat menjadi lebih baik atau lebih buruk dalam kualitas dari sebuah artikel yang diterbitkan dalam arus utama mendistorsi situs News. Anda dapat menulis sendiri berita laporan Anda berpura-pura saya Berita

Tidak ada posting terkait.

YARPP

Href = gratis “http://tvonlineindonesia.org/nonton-streaming-tv-online-indonesia-sctv-secara-live/”> Hidup Skor

Leave a Reply

Name *
Email *
Website